Single Events

horoscopes

पितृ पक्ष – पितृ दोष – पांचिक_श्राद्ध

पितृपक्ष में अपने पूर्वजों के लिए श्राद्ध,तर्पण आदि कर्मों के मध्यम से पितृ देवताओं को अपनी अंजली प्रदान करते हैं ।

पितृ पक्ष – पितृ दोष
–––––––––––
पितृपक्ष का आरंभ 11 सितंबर से  होने जा रहा है ।
       पितृपक्ष में अपने पूर्वजों के लिए श्राद्ध,तर्पण आदि कर्मों के मध्यम से पितृ देवताओं को अपनी अंजली प्रदान करते हैं ।
श्रद्धयाम दीयते इति श्राद्ध:
जिनके प्राप्ति श्रद्धा व्यक्त की जाए व श्रद्धा पूर्वक उनको याद किया जाए उसे ही श्राद्ध कहा गया है।

पितृ दोष
____

इस भौतिक संसार में आज के इस कलिकाल समय में देखा जा रहा है कि हर व्यक्ति अनेकों कष्टों से पीड़ित व दुखी है या किसी ना किसी वजह से परेशान है ।

उसमें लगभग ऐसा पाया जाता है कि पितृदोष के कारण समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है ।

#वैदिकज्योतिष  के अनुसार कुंडली में अनेकों प्रकार के पितृ दोष या ग्रहण दोष पाए जाते हैं  और उसका समाधान ढूंढने के लिए हर व्यक्ति परेशान होता देखा जा रहा है किन्तु सटीक व विश्वास पात्र निवारण या विद्वान् नहीं मिल पाते ।

किंतु क्या आप जानते हैं कि पितृ दोष का सटीक व फलदाई उपाय केवल #पांचिक_श्राद्ध है ।
जिसमें वेद मंत्रों के मध्यम से अनेकों विधियां कराई जाती हैं व पूर्ण अनुष्ठान होने से पितृ दोष का निवारण हो जाता है इसमें कोई संदेह नहीं है ।

अतः अगर आपके घर में या आपकी #कुंडली  में पितृदोष है तो तुरंत #पांचिक_श्राद्ध वैदिक पद्धति से कराएं ।

Bhaktyoday के मध्यम से विगत अनेकों वर्षों से यह पूजन भारत ही नहीं अपितु अनेकों देशों में  कराया जाता रहा  है  और हजारों परिवारों ने इसका लाभ लिया है।

नोट:–
आगर आप भी #पितृदोष  का वैदिक व #सटीक #निवारण  चाहते हैं तो तुरंत संपर्क कर अपना मुहूर्त निकलवाएं ।

संपर्क सूत्र:– +91–9818852283

Website:–
https://bhaktyoday.org/

Facebook page :–
https://www.facebook.com/bhaktyoday/

YouTube channel:–
https://www.youtube.com/c/VaishnvacharyaDharmendraVatsJi

Instagram:–
https://instagram.com/acharya_vats?igshid=10ugosqzcp9mm

#bhaktyoday #vedicastrology #vedicmaths #vedicastrologer #vedicscience #astrologypost #pitrapaksha #pitradosh

Download our Mobile App

There are many variations of passages of Lorem Ipsum available, but the majority have suffered alteration in some form, by injected hummer.

  • Download
  • Download